स्वतंत्रता दिवस को रिलीज हो रही जॉन अब्राहम की फिल्म सत्यमेव जयते को सेंसर बोर्ड ने ए सर्टिफिकेट दिया है। ए सर्टिफिकेट का मतलब है एडल्ट फिल्मों को मिलने वाला सर्टिफिकेट लेकिन सत्यमेव जयते को सेक्स या अश्लील कंटेट के लिए नहीं बल्कि मारधाड़ और खून-खराबे वाले सीन्स के लिए ए सर्टिफिकेट मिला है।

फिल्म सत्यमेव जयते के निर्देशक मिलन मिलाप ज़वेरी ने कहा है कि फिल्म को ए सर्टिफिकेट मिलने में कोई हैरानी की बात नहीं है। फिल्म में भ्रष्टाचार से जंग में सख्त शब्दों का इस्तेमाल है, जबरदस्त एक्शन है, फिल्म में मुहर्रम वाले सीन में काफी खून दिखाया गया है। भारी खून-खराबे के कारण इसे दूसरा सर्टिफिकेट नहीं दिया गया लेकिन फिल्म में सेक्स या किसी तरह के गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया गया है। मिलाप ज़वेरी ने कहा है कि फिल्म बिना कट के पास हुई है ये बड़ी बात है और एडल्ट सर्टिफिकेट से कमाई पर असर पड़ता है ऐसा सही नहीं है। उनकी शूटआउट एट वडाला अच्छी चली थी। ग्रेट ग्रैंड मस्ती और वीरे दी वेडिंग को भी अच्छा कलेक्शन मिला।

मिलाप ज़वेरी का कहना था कि फिल्म सत्यमेव जयते में एक जबरदस्त ट्विस्ट भी है और दर्शक उसे देखेंगे तो चौंक जाएंगे। इस फिल्म में जॉन अब्राहम के साथ मनोज बाजपेई भी पुलिसवाले की भूमिका में हैं लेकिन जॉन भ्रष्टाचार से अपने तरीके से लड़ते हैं। फिल्म की फीमेल कास्ट में अभिनेत्री नेहा शर्मा की बहन आयशा शर्मा हैं जो इस फिल्म से डेब्यू कर रही हैं।

फिल्म सत्यमेव जयते दो दिन बाद यानी स्वतंत्रता दिवस के दिन रिलीज हो रही है, इस दिन इसका मुकाबला अक्षय कुमार की फिल्म गोल्ड  से होगा। बॉक्सऑफिस पर कलेक्शन को लेकर ट्रेड एनालिस्ट्स अक्षय कुमार के पक्ष में दिख रहे हैं लेकिन उन्हें ध्यान देना होगा कि सत्यमेव जयते का ट्रेलर और गाने गोल्ड पर भारी पड़े हैं ऐसे में ओपनिंग डे के बाद सत्यमेव जयते जलवा दिखा सकती है।